Friendship Shayari In English

Friendship Shayari In English

Friendship Shayari In English – Friendship Dosti Shayari In English



Friendship Shayari In English, Funny Friendship Shayari In English, Friendship Day Shayari In English, Friendship Dosti Shayari In English, Emotional Friendship Shayari In English, Friendship Shayari In English Language, Friendship Shayari In English 2 Lines, Friendship Shayari In English Funny, Happy Friendship Day Shayari In English, Heart Touching Friendship Shayari In English, Friendship Shayari In English With Emoji, Funny Friendship Shayari In English, Friendship Shayari In English For Facebook, Friendship Day Shayari In English, Friendship Shayari In English 2018, Funny Shayari For Friends In Hindi, Whatsapp Funny Shayari In English, 2 Line Funny Shayari For Best Friend, Funny Dosti Shayari For Girl, Funny Shayari On Friends In Marathi, 2 Line Funny Shayari In English, Short Funny Shayari In English, Funny Shayari In Hindi



दूरियों से फर्क पड़ता नहीं;
बात तो दिलों कि नज़दीकियों से होती है;
दोस्ती तो कुछ आप जैसो से है;
वरना मुलाकात तो जाने कितनों से होती है!



Duriya se fark padta nahi,
Baat to dilo ki najdikiyo se hoti hain,
Dosti to kuch aap jaiso se hoti hain,
Varna mulakat to jane kitno se hoti hain.



हर पल की दोस्ती का इरादा है आपसे;
अपनापन भी कुछ ज्यादा है आपसे;
न सोचेंगे सिर्फ उम्र भर के लिये;
क़यामत तक दोस्ती निभायेंगे ये वादा है आपसे।



Har pal ki dosti ka irada hain aapse,
Apnapan bhi kuch jyada hain aapse,
Na sochenge sirf umrabhar ke liye,
Kayamat tak dosti nibhayenge ye vada hain aapse.



दोस्ती के मायने हमसे क्या पूछते हो;
हम अभी इन बातों से अनजान हैं;
सिर्फ एक गुजारिश है कि भूल ना जाना हमें;
क्योंकि आपकी दोस्ती ही हमारी जान है!



Dosti ke mayane hamse kya puchte ho,
Ham abhi in baato se anjan hain,
Sirf ek gujarish hain ki bhul na jana hame,
Kyoki aapki dosti hi hamari jaan hain..



उम्मीदों को टूटने मत देना;
इस दोस्ती को कम होने मत देना;
दोस्त मिलेंगे हमसे भी अच्छे पर;
इस दोस्त की जगह किसी और को मत देना।



Ummido ko tutne mat dena,
Is dosto ko kam hone mat dena,
Dost milenge hamse bhi acche par,
Is dost ki jagah kisi aur ko mat dena.



ना साथी है कोई ना हमसफ़र है कोई;
ना हम किसी के हैं ना हमारा है कोई;
पर आपको याद करके कह सकते हैं कि;
एक प्यार सा दोस्त हमारा भी है कोई।



Na saathi hain koi hamsafar hain koi,
Na ham kisi ke hain na hamara hain koi,
Par aapko yaad karke kah sakte hain ki,
Ek pyaar sa dost hamara bhi hain koi.



हम अपनी दोस्ती को यादों में सजायेंगे;
दूर रहकर भी आँखों में नजर आयेंगे;
हम वो वक्त नहीं जो बीत जायेंगे;
जब भी याद करोगे चले आयेंगे!



Ham apni dosti ko yaadoo me sajayenge,
Dur rahkar bhi aankho me najar aayenge,
Ham vo vakt nahi jo beet jayenge,
Jab bhi yaad karoge chale jayenge.



दोस्ती का वादा तोड़ मत जाना;
हमसे रूठ हमें न रुलाना;
तस्वीर दिल में लिए घूमते हैं;
तस्वीर समझकर हमें भूल मत जाना।



Dosti ka vaada tod mat jaana,
Hamse ruth hame na rulana,
Tasveer dil me liye gumte hain,
Tasveer samjke hame bhul mat jana.



फूल से दोस्ती करोगे तो महक जाओगे;
सावन से दोस्ती करोगे तो भीग जाओगे;
हमसे करोगे तो बिगड़ जाओगे;
और नहीं करोगे तो किधर जाओगे।



Fool se dosti karoge to mahak jaoge,
Savan se dosti karoge to bheeg jaoge,
Hamse karoge to bichad jaoge,
Aur nahi kaoge to kidar jaoge.



दोस्ती की कसक को दिखाया जाता नहीं;
दिल की लगी आग को बुझाया जाता नहीं;
कितनी भी दूरी हो दोस्ती में;
आप जैसे दोस्त को भुलाया जाता नहीं।



Dosti ki kasak ko dihaya jaata nahi,
Dil ki lagi aag ko bulaya jaata nahi,
Kitni bhi duri ho dosti me,
Aap jaise dost ko bhulaya jaata nhi



RELATED POST :-  Baat Nahi Karne Ki Shayari
I Hate You Shayari
Manane Wali Shayari
Single Shayari
Zindagi Shayari In Hindi
Love Wali Shayari
Bewafa Dard Bhari Shayari
Gajab Attitude Shayari In Hindi
Funny Shayari In English
Ghalib Shayari



वो याद नहीं करते, हम भुला नहीं सकते;
वो हंसा नहीं सकते, हम रुला नहीं सकते;
दोस्ती इतनी खूबसूरत है हमारी;
वो बता नहीं सकते, हम जता नहीं सकते।



Vo yaad nahi karte Ham bhula nahi sakte,
Vo hasa nahi sakte ham rula nahi sakte,
Dosti itani khubsurat hain hamari,
Vo bata nahi sakte ham jata nahi sakte.



दिल तोड़ना सजा है मोहब्बत की;
दिल जोड़ना अदा है दोस्ती की;
मांगे जो कुर्बानी वो है मोहब्बत;
जो बिन मांगे हो जाए कुर्बान वो है दोस्ती।



Dil todna saja hain mahobbat ki,
Dil jodna ada hain dosti ki,
Mange jo kurbani vo hain mahobbat,
Jo bin mange ho jaye kurban vo hoti hain dosti.



तन्हा रहना सीख लिया हमने;
पर खुश कभी ना हम रह पायेंगे;
तेरी दूरी सहना सीख लिया हमने;
पर तेरी दोस्ती के बिना जी नहीं पायेंगे।



Tanha rahna sikh liya hamne,
Par khush kabhi na ham rah payenge,
Teri duri sahna shikh liya hamne,
Par teri dosti ke bina ji nahi payenge.



यह सफ़र दोस्ती का कभी ख़त्म ना होगा;
दोस्तों से प्यार कभी कम ना होगा;
दूर रहकर भी जब रहेगी महक इसकी;
हमें कभी बिछड़ने का गम न होगा।



Yah safar dosti ka kabhi khatm na hoga,
Dosto se pyaar kabhi kam na hoga,
Dur rahkar bhi jab rahegi mahak isaki,
Hame kabhi bhichdne ka gam na hoga.



हम वो फूल हैं जो रोज़-रोज़ नहीं खिलते;
ये वो होंठ हैं जो कभी-कभी नहीं सिलते;
हमसे बिछाड़ोगे तो एहसास होगा तुम्हें;
हम वो दोस्त हैं जो रोज-रोज नहीं मिलते।



Ham vo hain jo roj-roj nahi khilte,
Ye vo hoth hain jo kabhi kabhi nahi sikhte,
Hamse bichdoge to ehsas hoga tumhe,
Ham vo dost hain jo roj roj nahi milte.



क्यों मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त;
क्यों गम को बांट लेते हैं दोस्त;
न रिश्ता खून से न रिवाज से बंधा;
फिर भी जिंदगी भर साथ देते हैं दोस्त।



Kyo muskilo me sath dete hain dost,
Kyo gam ko baat lete hain dost,
Na rista khun se na rivaj se bandha,
Fir bhi jindagi bhar sath dete hain dost.



फासले दोस्ती में कभी-कभी आते रहते हैं;
दोस्ती फिर भी दो दिलों को मिला ही देती हैं;
जो ख़फ़ा न हो जाये वो दोस्त कैसे होता;
सच्ची दोस्ती फिर भी दोस्त को मिला ही देती है।



Fasle dosti me kabhi kabhi aate rahte hain,
Dosti fir bhi do dilo ko mila hi deti hain,
Jo khafa na ho jaye vo dost jaise hota,
Sacchi dosti fir bhi dost ko mila hi deti hain.



दोस्त ज़िन्दगी का चाँद होता है;
दिल ज़मीन का आसमान होता है;
बदनसीब वो होते हैं जिनका कोई दोस्त नहीं;
क्योंकि दोस्त तो धड़कते दिल की जान होता है।



Dost jindagi ka chand hota hain,
Dil jamin ka aasman hota hain,
Badnasib vo hote hain jinka koi dost nahi,
Kyoki dost to dhadkte dil ki jaan hota hain.



दोस्ती का रिश्ता पुराना नहीं होता;
इससे बड़ा ख़जाना नहीं होता;
दोस्ती तो प्यार से भी पवित्र है;
क्योंकि इसमें कोई पागल या दीवाना नहीं होता।



Dosti ka rista purana nahi hota,
Isase bada khajana nahi hota,
Dosti to pyaar se bhi pavitra hain,
Kyoki isame koi pagal ya diwana nahi hota.



दोस्ती ग़ज़ल है गुनगुनाने के लिए;
दोस्ती नगमा है सुनाने के लिए;
ये वो जज़बा है जो सबको मिलता है;
क्योंकि हौंसला चाहिए दोस्ती निभाने के लिए।



Dosti gajal hain gungunane ke liye,
Dosti nagma hain sunane ke liye,
Ye vo jajba hain jo sabko milta hain,
Kyoki hausla chahiye dosti nibhane ke liye.



ज़िंदगी ऐसी है जितना जियो उतना कम है;
ग़म एक ऐसी चीज़ है;
जिसमें जितना डूबो उतना कम है;
दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जितना समझो उतना कम है।



Jindagi esi hain jitna jiyo utna kam hain,
Gam ek esi chiz hain,
Jisme jitna dubo utna kam hain,
Dosti ek esa rista hain jitna samjo utna kam hain.



हर वक़्त तुम्हें मेरी याद सताएगी;
दुःख के वक़्त मेरी दोस्ती ही याद आएगी;
तब जानोगे हमारी दोस्ती की कदर;
जब हमारी ज़िंदगी से सांसे ही रूठ जाएंगी।



Har vakt tumhe meri yaad satayegi,
Dukh ke vakt meri dosti hi yaad aayegi,
Tab janoge hamari dosti ki kadar,
Jab hamari jindagi se sanse hi ruth jayegi.



फूल बनकर मुस्कुराना जिन्दगी है
मुस्कुरा के गम भूलाना जिन्दगी है
मिलकर लोग खुश होते है तो क्या हुआ
बिना मिले दोस्ती निभाना भी जिन्दगी है



Ful bankar muskurana jindagi nahi,
Muskura ke gam bhulana jindagi nahi,
Milkar log khush hote hain to kya hua,
Bina mile dosti nibhana bhi jindagi hain.



दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है



Dosti har chahere ki mithi muskan hoti hain,
Dosti hi sukh dukh ki pahchan hoti hain,
Ruth bhi gaye ham to dil par mat lena,
Kyoki dosti jara si nadan hoti hain.



दोस्ती का रिश्ता दो अंजानो को जोड देता है
हर कदम पर जिन्दगी को नया मोड देता है
सच्चा दोस्त साथ देता है तब
जब अपना साया भी साथ छोड देता है.



Dosti ka rista do anjano ko jod deta hain,
Har kadam par jindagi ko naya mod bana deti hain,
Saccha dost sath deta hain tab
Jab apna saya bhi sath chod deta hain.



गुनाह करके सज़ा से डरते हैं
जहर पी के दवा से डरते हैं
दुश्मनों के सितम का खौफ नहीं
हम तो दोस्तों की वफ़ा से डरते हैं



Gunah karke saja se darte hain
Jahar pi ke dava se darte hain,
Dusmano ke sitam ka kauf nahi,
Ham to dosto ki vafa se darte hain.



दोस्तों की कमी को पहचानते है हम
दुनियाँ के गमों को भी जानते है हम
आप जैसे दोस्तों के ही सहारे
आज भी हँस कर जीना जानते है हम



Dosto ki kami ko pahchante hain ham,
Duniya ke gamo ko bhi jante hain ham,
Aap jaise dosto ke hi sahare
Aaj bhi has kar jina jante hain ham.



एक हसीन पल की जरूरत है हमें
बीते हुए कल की जरूरत है हमें
सारा जहाँ रूठ गया हमसे
जो कभी ना रूठे ऐसे दोस्त की जरूरत है हमें



Ek hasin pal ki jarurat hain hame,
Bite hue kal ki jarurat hain hame,
Sara jaha ruth gaya hamse,
Jo kabhi na ruthe ese dost ki jarurat hain hame.



कुछ सालों बाद ना जाने क्या होगा
ना जाने कौन दोस्त कहाँ होगा
फिर मिलना हुआ तो मिलेगे यादों में
जैसे सूखे हुए गुलाब मिले किताबों में.



Kuch salo baad na jane kya hoga,
Na jane kon dost kaha hoga,
Fir milna hua to milege yado me
Jaise sukhe hue gulab mile kitabo me.



क्युँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्युँ गम को बांट लेते है दोस्त
ना रिश्ता खून का ना रिवाज से बंधा
फिर भी जिन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त



Kyu muskilo me sath dete hain dost,
Kyu gam ko baant lete hain dost,
Na rista khun ka na rivaj se bandha,
Fir bhi jindagi bhar sath dete hain dost.



वो मुझे चाहे मिल ही जाऐ जरूरी तो नहीं
ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसो में
वो सामने हो मेरी आँखो के जरूरी तो नहीं



Vo muje chahe mil hi jaye jaruri to nahi,
Ye kuch kam hain ki basa hain meri sanso me
Vo samne ho meri jaruri to nahi.



दोस्ती नज़रों से हो तो उसे कुदरत कहते हैं
सितारों से हो तो उसे जन्नत रहते है
हुसन से हो तो उसे महोब्बत कहते है
और दोस्ती आप जैसे दोस्त से हो तो उसे किस्मत कहते है



Dosti najro se ho to use kudarat kahte hain,
Sitaro se ho to use jannat kahte hain,
Husan se ho to use mahobbat kahte hain,
Aur dosti aap jaise dost se ho to use kismat kahte hain.



एक मुलाक़ात करो हमसे इनायत समझकर
हर चीज़ का हिसाब देंगे क़यामत समझकर
मेरी दोस्ती पे कभी शक ना करना
हम दोस्ती भी करते है इबादत समझकर.



Ek mulakat karo hamse inayat samjakar,
Har chiz ka hisab denge kayamat samjakar,
Meri dosti pe kabhi shak na karna,
Ham dosti bhi karte hain ibadat samajkar.



नैनो मे बसे है ज़रा याद रखना
अगर काम पड़े तो याद करना
मुझे तो आदत है आपको याद करने की
अगर हिचकी आए तो माफ़ करना



Naino me base jara yaad rakhna,
Agar kaam pade to yaad karna,
Muje to aadat hain aapko yaad karne ki,
Agar hichaki aaye to maaf karna.



मुस्कुरा के गम भुलाना जिन्दगी है
मिलकर लोग खुश होते हैं तो क्या हुआ
बिना मिले दोस्ती निभाना भी जिन्दगी है



Muskura ke gam bhulana jindagi hain,
Milkar log khush hote hain to kya hua,
Bina mile dosti nibhana jindagi hain.



सोचा की दोस्त आपको युँ ही भूल जाऐगा
ये तो आदत है हमारी सताने की
वरना इतना प्यारा दोस्त कौन भूला पाऐगा



Socha ki dost aapko yu hi bhul jayega,
Ye to aadat hain hamari satane ki,
Varna itna pyaar dost kon bhul payega.



हम दोस्त बनाकर किसी को रुलाते नही
दिल में बसाकर किसी को भुलाते नही
हम तो दोस्त के लिए जान भी दे सकते हैं
पर लोग सोचते हैं की हम दोस्ती निभाते नहीं



Ham dost banakar kisi ko rulate nahi,
Dil me basakar kisi ko bhulate nahi,
Ham to dost ke liye jaan bhi de sakte hain,
Par log sochte hain ki ham dosti nibhate bahi.



जिन्दगी आप बिन उलफत सी लगती है
एक पल की जुदाई मुदत सी लगती है
पहले तो ऐहसास था पर अब यकीन है
हर लम्हा आपकी जरूरत सी लगती है



Jindagi aap bina ulfat si lagti hain,
Ek pal ki judai mudat si lagti hain,
Pahle to ehsas tha par ab yakeen hain,
Har lamha aapki jarurat si lagti hain.



हम ना रहेंगे तो हमें याद करोगे तुम भी
आज कहते हो हमारे पास वक्त नही
पर एक दिन मेरे लिए वक्त बर्बाद करोगे तुम भी



Ham na rahenge to hame yaad karoge tum bhi
Aaj kahte ho hamare pas vakt nahi,
Par ek din mere liye vakt barbad karogr tum bhi.



दोस्ती सिर्फ पास होने का नाम नही
अगर तुम दूर रहकर भी हमें याद करो
इससे बड़ा हमारे लिए कोई इनाम नही



Dosti sirf paas hone ka naam nahi,
Agar tum dur rahkar bhi hame yaad karo,
Isase bada hamare liye koi inam nahi.



सुबह का हर पल ज़िंदगी दे
आपको दिन का हर लम्हा खुशी दे
आपको जहा गम की हवा छू कर भी न गुज़रे
खुदा वो जन्नत से ज़मीन दे आपको



Subah ka har pal jindagi de
Aapko din ka har lamha khushi de,
Aapko jaha gam ki hava chu kar bhi na gujare,
Khuda vo jannat se jamin de aapko.



छोटे से दिल में गम बहुत है
जिन्दगी में मिले जख्म बहुत हैं
मार ही डालती कब की ये दुनियाँ हमें
कम्बखत दोस्तों की दुआओं में दम बहुत है.



Chote se dil me gam bahut hain,
Jindagi me mile jakhm bahut hain,
Maar hi dalti kab ki ye duniya hame,
Kambakt dosto ki duao me dam bahut hain.



रिश्तों की यह दुनिया है निराली
सब रिश्तों से प्यारी है दोस्ती तुम्हारी
मंज़ूर है आँसू भी आखो में हमारी
अगर आजाये मुस्कान होंठ पे तुम्हारी।



Risto ki yah duniya hain nirali,
Sab risto se pyari hain dosti tumhari,
Manjur hain aansu bhi aakho me hamari,
Agar aajaye muskan hoth pe tumhari.



सुबह होते ही जब दुनिया आबाद होती है
आँख खुलते ही आपकी याद आती है
खुशियों के फूल हो आपके आँचल में
ये मेरे होंठों पे पहली फ़रियाद होती है।



Subah hote hi jab duniya aabad hoti hain,
Aankh khulte hi aapki yaad aati hain,
Khushiyo ke ful ho aapke aanchal me,
Ye mere hotho pe pahli fariyaad hoti hain.



तेरे गम को अपनी रूह में उतार लूँ
जिन्दगी तेरी चाहत में सवार लूँ
मुलाकात हो तुझ से कुछ इस तरह
तमाम उमर बस इक मुलाकात में गुजार लूँ



Tere gam ko apni ruh me utar lu,
Jindagi teri chahat me savar lu,
Mulakat ho tuj se kuch is tarah,
Tamam umar bas ek mulakat me gujar lu.



वो कहते हैं दिल पे भरोसा इतना नहीं करते
हम कहते हैं महोब्बत में सोचा नहीं करते
वो कहते हैं नज़रों से दूर पर दिल के पास हुँ
हमने कहा सपनो से दिल को बहलाया नहीं करते



Vo kahte hain dil pe bharosa itna nahi karte,
Ham kahte hain mahobbat me soacha nahi karte,
Vo kahte hain najro se dur par dil ke paas hu,
Hamne kaha sapno se dil ko bahlaya nahi karte.



कोई रिश्ता नया या पुराना नहीं होता
जिन्दगी का हर पल सुहाना कितना होता
जुदा होना तो किस्मत की बात है
पर जुदाई का मतलब भूलाना नहीं होता



Koi rista naya ya purana nahi hota,
Jindagi ka har pal suhana kitna hota,
Juda hona to kismat ki baat hain,
Par judai ka matlab bhulana nahi hota.



वफा के बदले बेवफाई ना दिया करो
मेरी उमीद ठुकरा कर इन्कार ना किया करो
तेरी महोब्त में हम सब कुछ खो बैठे
जान चली जायेगी इम्तिहान ना लिया करो



Vafa ke badle bevfai na diya karo,
Meri ummid thukra kar inkar na kiya karo,
Teri mahobbat me ham sab kuch kho baithe
Jaan chali jayegi imtihan na liya karo.



रफ्तार कुछ जिंदगी की यू बनाये रखी है हमने..
कि दुश्मन भले आगे निकल जाए
पर दोस्त कोई पिछे ना छुटेगा.



Raftar kuch jindagi ki yu banaye rakhi hain hamne,
Ki dusman bhale aage nikal jaye
Par dost koi piche na chutega.



सुदामा ने कृष्ण से पुछा
“दोस्ती” का असली मतलब क्या है ?
कृष्ण ने हंसकर कहा जहाँ “मतलब” होता है,
वहाँ दोस्ती कहाँ होती है !



Sudama ne krishna se pucha,
Dosti ka asli matlab kya hain?
Krishna ne haskar kaha jaha matlab hota hain,
Vaha dosti kaha hoti hain.



लोग कहते हैं ज़मीं पर किसी को खुदा नहीं मिलता,
शायद उन लोगों को दोस्त कोई तुम-सा नहीं मिलता……!!



Log kahte hain jamin par kisi ko khuda nahi milta,
Shayad un logo ko dost koi tum sa nahi milta.



दोस्त को दौलत की निगाह से मत देखो ,
वफा करने वाले दोस्त अक्सर गरीब हुआ करते हैं….!!



Dost ko daulat ki nigah se mat dekho,
Vafa karne vale dost aksar gareeb hua karte hain.



हँसमुख चेहरा एक जादुई आकर्षण हैं,
जो हर किसी को मोह लेता है और मित्र बनाता है।



Hasmukh chehra ek jadui aakarshan hain,
Jo har kisi ko moh leta hain aur mitra banata hain.



सोचा था न करेंगे किसी से दोस्ती!
न करेंगे किसी से वादा!
पर क्या करे दोस्त मिला इतना प्यारा की
करना पड़ा दोस्ती का वादा!



Socha tha na karenge kisi se dosti,
Na karenge kisi se vada,
Par kya kare dost mila itna pyara ki
Karna pada dosti ka vada.



कौन होता है दोस्त? दोस्त वो जो बिन बुलाये आये,
बेवजह सर खाए, जेब खाली करवाए,
कभी सताए, कभी रुलाये,
मगर हमेशा साथ निभाए.



Kaun kahta hain dost? dost vo jo bin bulaye aaye,
Bevajah sar khae, Jeb khali karvae,
Kabhi sateye, Kabhi rulaye,
Magar hamesha sath nibhaye.



कुछ खोये बिना हमने पाया है,
कुछ मांगे बिना हमें मिला है,
नाज़ है हमें अपनी तक़दीर पर
जिसने आप जैसे दोस्त से मिलाया है !



Kuch khoye bina hamne paya hain,
Kuch mange bina hame mila hain,
Naj hain hame apni takdeer par,
Jisne aap jaise dost se milaya hain.



जो तू चाहे वो तेरा हो,
रोशन रातें और खूबसूरत सवेरा हो,
जारी रहें हमारी दोस्ती का सिलसिला,
कामयाब हर मंजिल पर दोस्त मेरा हो|



Jo tu chahe vo tera ho,
Rosan rate aur khubsurat savera ho,
Jari rahe hamari dosti ka silsila,
Kamyab har manjil par dost mera ho.



बेशक थोड़ा इंतजार मिला हमको,
पर दुनिया का सबसे हसीं यार मिला हमको,
न रही तमन्ना अब किसी जन्नत की,
तेरी दोस्ती में वो प्यार मिला हमको.



Beshak thoda intezar mila hamko,
Par duniya ka sabse hasi yaar mila hamko,
Na rahi tamnna ab kisi jannat ki,
Teri dosti me vo pyaar mila hamko.



दोस्ती कभी ख़ास लोगों से नहीं होती,
जिनसे हो जाती है वही लोग ज़िन्दगी में ख़ास बन जाते है !



Dosti kabhi khas logo se nahi hoti,
Jinse ho jati hain vahi log jindagi me khas ban jate hain.



तलास हे एक ऐसे सख्स की,
जो आँखों में उस वक्त दर्द देख ले;
जब दुनिया हमसे कहती हे ,
क्या यार तुम मुस्कुराते बहुत हो !



Talas hain ek ese shaks ki,
Jo aankho me us vakt dard dekh le,
Jab duniya hamse kahti hain,
Kya yaar tum muskurate bahut ho.



प्यार की कमी को पहचानते हैं हम,
दुनिया के गमों को भी जानते हैं हम,
आप जैसे दोस्त का सहारा है,
तभी तो आज भी हंसकर जीना जानते हैं हम.



Pyaar ki kami ko pahchante hain ham,
Duniya ke gamo ko bhi jante hain ham,
Aap jaise dost ka sahara hain ham,
Tabhi to aaj bhi haskar jina jante hain ham.



एक अकेला गुलाब मेरा बगीचा हो सकता है…
एक अकेला दोस्त मेरी दुनिया.



Ek akela gulab mera bagicha ho sakta hain,
Ek akela dost meri duniya.



जो सबका मित्र होता है
वो किसी का मित्र नहीं होता है.



Jo sabka mitra hota hain,
Vo kisi ka mitra nahi hota hain.



मैं मुसीबत में अकेला हूँ…
तो यार हैरत कैसी…??
हर कोई डूबती हुई क़श्ती
से उतर ही जाता है…!!



Main musibat me akela hu..
To yar hairat kaisi..?
Har koi dubti hue kasti
Se utar hi jta hain.



सोचा था बताएंगे हर एक दर्द तुमको,
लेकिन तुमने तो ये भी न पूँछा की खामोश क्यों हो..!!



Socha tha batayenge har ek dard tumko,
Lekin tumne to ye bhi na pucha ki khamosh kyo ho..



अब तो इश्क़ लफ्ज़ से डर लगता हे जनाब,
और आप हैं कि दोहराने की बात कर रहे हो।



Ab to ishq lafj se dar lagta he janab,
Aur aap hain ki dohrane ki baat kar rahe ho.



सुनो अब लौट कर मत आना,
ये तन्हाई अब हमें तुमसे भी प्यारी लगती हैं।



Suno ab laut kar mat aana,
Ye tanhae ab hame tumse bhi pyari lagti hain.



रूह को समझाना भी जरूरी है,
महज़ हाथों का थामना साथ नहीं होता।



Ruh ko samjana bhi jaruri nahi hain,
mahaj hatho ko thamana sath nahi hota



मुझ से माहीर तेरा इश्क़ है,
तुझसे माहीर मेरा इश्क है,
इजहार तेरे वश में नही,
इंतजार मेरे वश में नही।



Muj se mahir ter ishq hain,
Tujse mahir mera ishq hain,
Intezar tere vash me nahi,
Intezar mere vash me nahi.



इश्क की नासमझी में हम सब कुछ गवां बैठे,
जरुरत थी उन्हें खिलौने की हम अपना दिल थमा बैठे।



Ishq ki na samji me ham sab kuch gava baithe,
Jarurt thi unhe khilone ki ham apna dil thama baithe.



मैं मुसीबत में अकेला हूँ…
तो यार हैरत कैसी…??
हर कोई डूबती हुई क़श्ती
से उतर ही जाता है…!!



Main musibat me akela hu..
To yar hairat kaisi..?
Har koi dubti hue kasti
Se utar hi jta hain.



सोचा था बताएंगे हर एक दर्द तुमको,
लेकिन तुमने तो ये भी न पूँछा की खामोश क्यों हो..!!



Socha tha batayenge har ek dard tumko,
Lekin tumne to ye bhi na pucha ki khamosh kyo ho..



अब तो इश्क़ लफ्ज़ से डर लगता हे जनाब,
और आप हैं कि दोहराने की बात कर रहे हो।



Ab to ishq lafj se dar lagta he janab,
Aur aap hain ki dohrane ki baat kar rahe ho.



सुनो अब लौट कर मत आना,
ये तन्हाई अब हमें तुमसे भी प्यारी लगती हैं।



Suno ab laut kar mat aana,
Ye tanhae ab hame tumse bhi pyari lagti hain.



रूह को समझाना भी जरूरी है,
महज़ हाथों का थामना साथ नहीं होता।



Ruh ko samjana bhi jaruri nahi hain,
mahaj hatho ko thamana sath nahi hota



मुझ से माहीर तेरा इश्क़ है,
तुझसे माहीर मेरा इश्क है,
इजहार तेरे वश में नही,
इंतजार मेरे वश में नही।



Muj se mahir ter ishq hain,
Tujse mahir mera ishq hain,
Intezar tere vash me nahi,
Intezar mere vash me nahi.



इश्क की नासमझी में हम सब कुछ गवां बैठे,
जरुरत थी उन्हें खिलौने की हम अपना दिल थमा बैठे।



Ishq ki na samji me ham sab kuch gava baithe,
Jarurt thi unhe khilone ki ham apna dil thama baithe.



कभी ये आरज़ू थी कि हर कोई जाने मुझे,
आज ये तलब़ है कि “गुमनाम” ही रहूँ मै।



Kabhi ye aarju thi ki har koi jane muje,
Aaj ye talab he ki “GUMNAM” hi rahu main.



वक़्त ने ज़रा सी करवट क्या ली,
गैरो की लाइन में सबसे आगे पाया अपनों को।



Vakt ne jara si karvat kya li,
Gairo ki laine me sabse aage paya apno ko.



किसी को बांध के रखना फितरत नही है मेरी,
मैं प्रेम का धागा हूँ मजबूरी की ज़ंजीर नही।



Kisi ko bandh ke rakhna fitrat nahi hain meri,
Main prem ka dhaga hu majboori ki janjir nahi.
Aaj ye talab he ki “GUMNAM” hi rahu main.



वक़्त ने ज़रा सी करवट क्या ली,
गैरो की लाइन में सबसे आगे पाया अपनों को।



Vakt ne jara si karvat kya li,
Gairo ki laine me sabse aage paya apno ko.



किसी को बांध के रखना फितरत नही है मेरी,
मैं प्रेम का धागा हूँ मजबूरी की ज़ंजीर नही।



Kisi ko bandh ke rakhna fitrat nahi hain meri,
Main prem ka dhaga hu majboori ki janjir nahi.



हमारी जिंदगी है दोस्तों की अमानत;
रखना मेरे खुदा सदा उनको सलामत;
देना उन्हें खुशियाँ सारे जहाँ की;
बन जाए वो तारीफ हर एक जुबान की।



मैं मुसीबत में अकेला हूँ…
तो यार हैरत कैसी…??
हर कोई डूबती हुई क़श्ती
से उतर ही जाता है…!!



Main musibat me akela hu..
To yar hairat kaisi..?
Har koi dubti hue kasti
Se utar hi jta hain.



सोचा था बताएंगे हर एक दर्द तुमको,
लेकिन तुमने तो ये भी न पूँछा की खामोश क्यों हो..!!



Socha tha batayenge har ek dard tumko,
Lekin tumne to ye bhi na pucha ki khamosh kyo ho..



अब तो इश्क़ लफ्ज़ से डर लगता हे जनाब,
और आप हैं कि दोहराने की बात कर रहे हो।



Ab to ishq lafj se dar lagta he janab,
Aur aap hain ki dohrane ki baat kar rahe ho.



सुनो अब लौट कर मत आना,
ये तन्हाई अब हमें तुमसे भी प्यारी लगती हैं।



Suno ab laut kar mat aana,
Ye tanhae ab hame tumse bhi pyari lagti hain.



रूह को समझाना भी जरूरी है,
महज़ हाथों का थामना साथ नहीं होता।



Ruh ko samjana bhi jaruri nahi hain,
mahaj hatho ko thamana sath nahi hota



मुझ से माहीर तेरा इश्क़ है,
तुझसे माहीर मेरा इश्क है,
इजहार तेरे वश में नही,
इंतजार मेरे वश में नही।



Muj se mahir ter ishq hain,
Tujse mahir mera ishq hain,
Intezar tere vash me nahi,
Intezar mere vash me nahi.



इश्क की नासमझी में हम सब कुछ गवां बैठे,
जरुरत थी उन्हें खिलौने की हम अपना दिल थमा बैठे।



Ishq ki na samji me ham sab kuch gava baithe,
Jarurt thi unhe khilone ki ham apna dil thama baithe.



कभी ये आरज़ू थी कि हर कोई जाने मुझे,
आज ये तलब़ है कि “गुमनाम” ही रहूँ मै।



Kabhi ye aarju thi ki har koi jane muje,
Aaj ye talab he ki “GUMNAM” hi rahu main.



वक़्त ने ज़रा सी करवट क्या ली,
गैरो की लाइन में सबसे आगे पाया अपनों को।



Vakt ne jara si karvat kya li,
Gairo ki laine me sabse aage paya apno ko.



किसी को बांध के रखना फितरत नही है मेरी,
मैं प्रेम का धागा हूँ मजबूरी की ज़ंजीर नही।



Kisi ko bandh ke rakhna fitrat nahi hain meri,
Main prem ka dhaga hu majboori ki janjir nahi.



अजनबी रिश्तों का नाम है दोस्ती;
हर गम की दवा है दोस्ती;
दोस्त बिछड़ जाए तो रोता है दिल;
मगर दोस्ती टूट जाए तो रोती है जिंदगी।



Ajanabi risto ka nam hain dosti,
Har gam ki dava hain dosti,
Dost bichad jaye jo rota hain dil,
Magar dosti tut jaye to roti hain jindagi.



ज़ज्बात इश्क नाकाम ना होने देंगे;
दिल की दुनिया में कभी शाम न होने देंगे;
दोस्ती का हर इल्ज़ाम अपने सर पर ले लेंगे हम;
पर दोस्त हम तुम्हें कभी बदनाम न होने देंगे!



Jajbat ishq nakaam na hone denge,
Dil ki duniya me kabhi shyam na hone denge,
Dosti ka har itjam apne sar par le lenge ham,
Par dost ham tumhe kabhi badnam na hone denge.



ना आसमान से टपकाए गये हो;
न ऊपर से गिराए गए हो;
कहाँ मिलते हैं आप जैसे दोस्त;
आप तो ऑर्डर देकर बनवाये गए हो।



Na aasaman se tapkaye gaye ho,
Na uper se giraye ho.
Kaha milte hain aap jaise dost,
Aap to order dekar banvaye gaye ho.



अए दोस्त, तेरी दोस्ती पर नाज़ करते हैं;
हर वक्त मिलने की फ़रियाद करते हैं;
हमें नहीं पता घर वाले बताते हैं;
हम नींद में भी आपसे बात करते हैं।



Ye dost, teri dosti par naaj karte hain,
Har vakt milne ki fariyaad karte hain,
Hame nahi pata gar vale batate hain,
Ham nind me bhi aapse baat karte hain.



आपकी दुआओं से हमें वो सहारा मिला;
जो मिल न सका वो किनारा मिला;
किन लफ्जों में हम बयाँ करें;
जाने इतनी भीड़ में मुझे दोस्त इतना प्यार मिला।



Aapki duao se hame vo sahara mila,
Jo mil na saka vo kinara mila,
Kin lafjo me ham baya kare,
Jaane itani bhid me muje dost itna pyar mila.



दोस्त साथ में हो तो रोने में भी शान है;
दोस्त ना हो तो महफ़िल भी श्मशान है;
सारा खेल दोस्ती का है;
वरना जनाजा और बारात, एक समान हैं।



Dost sath me ho to rone me bhi saan hain,
Dost na ho to mahfil bhi samsan hain,
Sara khel dosti ka hain,
Varna anaja aur barat ,ek saman hain.



महक दोस्ती की इश्क से कम नहीं होती;
इश्क से जिंदगी ख़तम नहीं होती;
साथ अगर हो जिंदगी में दोस्तों का;
तो जिंदगी जन्नत से कम नहीं होती।



Mahak dosti ki ishq se kam nahi hoti,
ishq se jindgi khatam nahi hoti,
sath agar ho jindgi me dosto ka,
To jindgi jannat se kam nahi honge.



दोस्त ऐसा हो कि धड़कन में बस जाये;
सांस भी लूँ तो खुशबु उसकी आये;
उसके प्यार का नशा आँखों पे ऐसा चले;
कि बात कोई भी हो नाम उसका आये!



Dost esa ho ki dhadakan me bas jaaye,
Sans bhi lu to khusbu uski aaye,
uske pyar ka nasa ankho pe esa chale,
Ki baat koi bhi ho naam uska aaye.



खुदा की बनाई कुदरत नहीं देखी;
दिलों में छुपी दौलत नहीं देखी;
जो कहता है दूरी से मिट जाती है दोस्ती;
उसने शायद हमारी दोस्ती नहीं देखी!



Khuda ki banayi kudrat nahi dekhi,
Dilo me chupi daulat nahi dekhi,
Jo kahta hain duri se meet jati hain dosti,
Usne shayad hamari dosti nahi dekhi.



तूफ़ान है जिंदगी तो साहिल है तेरी दोस्ती;
सफ़र है मेरी जिंदगी मंजिल है तेरी दोस्ती;
मौत के बाद मिल जायेगी मुझे जन्नत;
जिंदगी भर रहे अगर कायम तेरी दोस्ती!



Toofan hain jindagi to sahil hain teri dosti,
Safar hain meri jindagi manjil hain teri dosti,
Maut ke baad mil jayegi muje jannat,
Jingi bhar rahe agar kayam teri dosti.



सफ़र मोहब्बत का चलता रहे;
सूरज हर शाम ढलता रहे;
कभी न ढलेगी अपनी दोस्ती की सुबह;
चाहे हर रिश्ता रंग बदलता रहे!



Safar mahobbat ka chalta rahe,
Sooraj har saam dhalta rahe,
Kabhi na dhalegi apani dosti ki shubah,
Chahe har rishta rang badlta rahe.



खुशियाँ इतनी हो कि आँखों में आंसू जम जायें;
लम्हें हो इतने हसीन कि वक्त भी थम जाये;
दोस्ती निभायेंगे हम आपसे इस तरह कि;
साथ गुजरा हुआ हर पल जिंदगी बन जाये!



Khushiya itni ho ki aankho me aanshu jam jaye,
Lamhe ho itne hasin ki vakt bhi tham jaaye,
Dosti nibhayenge ham aapse is tarah ki,
Sath gujra hua har pal jindgi ban jaye.



दूरियों से फर्क पड़ता नहीं;
बात तो दिलों की नज़दीकियों से होती है;
दोस्ती तो कुछ आप जैसो से है;
वर्ना मुलाकात तो जाने कितनों से होती है!



Duriya se fark padta nahi,
Baat to dilo ki najdikiyo se hoti hain,
Dosti to kuch aap jaiso se hain,
Varna mulakat to jane kitno se hoti hain.



दिल को मिला सुकून कोई हमें याद तो करता है;
याद न सही फ़रियाद तो करता है;
आँखों ने ढूंढ लिया है ऐसा दोस्त;
जो बात न सही पर याद तो करता है!



Dil ko mila sookun koi hame yaad to karta hain,
yaad na sahi fariyad to karta hain,
Aankho ne dhundh liya hain aisa dost,
Jo baat na sahi par yaad to karta hain.



अगर मिलती मुझे एक दिन भी बादशाही;
तो ए दोस्तों;
मेरी रियासत में हमारी दोस्ती के सिक्के चलते!



Agar milti muje ek din bhi badshahi,
TO E DOSTO,
Meri riyasat me hamari dosti ke sikke chalte.



बोलती है दोस्ती चुप रहता है प्यार;
हँसाती है दोस्ती रुलाता है प्यार;
मिलाती है दोस्ती जुदा करता है प्यार;
फिर भी लोग क्यों दोस्ती छोड़कर करते हैं प्यार!



Bolti hain dosti, chup rahta hain pyaar
Hasati hain dosti,rulata hain pyaar,
Milati hain dosti,Juda karta hain pyaar,
Fir bhi log kyo dosti chodkar karte hain pyaar.



Being glamorous Is not a crime.



I sincerely feel that beauty
Largely comes from within.



Real beauty is to be true to oneself.
That’s what makes me feel good.



The problem with beauty is that it’s like
Being born rich and getting poorer.



You can only perceive real beauty
In a person as they get older.



By plucking her petals,
you do not gather the beauty of the flower.



Beauty is the sole ambition,
The exclusive goal of Taste.



Beauty is whatever gives joy.



It is the relationships amongst
People which make life beautiful!



Sleep – the most beautiful
Experience in life – except drink.



Joy in looking and comprehending
Is nature’s most beautiful gift.



Close your eyes and see the beauty.



It is amazing how complete is
The delusion that beauty is goodness.



In every man’s heart there is a secret nerve
That answers to the vibrations of beauty.



A thing of beauty is a joy forever:
It’s loveliness increases,
It will never pass into nothingness.



Beauty always comes with dark thoughts.



 What humbugs we are,
Who pretend to live for Beauty,
And never see the Dawn!



The most beautiful view is
The one I share with you.



Love is a many splendid thing.
Love lifts us up where we belong.
All you need is love!



I don’t like standard beauty –
There is no beauty without strangeness.



If you are reading this, you are beautiful.
Smile & let the world show it



There is a road from the eye to the heart
That does not go through the intellect.



There is a road from the eye to the heart
That does not go through the intellect.





HELLO FRENDS AAPKO HAMARI FRIENDSHIP SHAYARI IN ENGLISH AAPKO PADHKE ACCHI LAGI HO TO AAP HAMARI WEBSITE PE AUR SHAYARI PADHNE KE LIYE terimerishayari.in PE AAKE AAPKO JO SHAYARI PADHNI HO AAP PADH SAKTE HAIN.AUR AAPKO HAMARI SHAYARIYA KESI LAGI AAP HAME COMMENT KARKE BATA SAKTE HO.

AUR AAP NE SHAYARIYA PADH LI HO TO AAP HAME SOCIAL MEDIA PE FOLLOW KAR SAKTE HAIN. FACEBOOK , INSTAGRAM , TWITTER , LINKED .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *